मार्च 19, 2021

Share market kaise sikhe 2021 - Share market क्या है


Share market कैसे सीखें - Share market क्या है
Share market कैसे सीखें 


Share market कैसे सीखें - Share market क्या है? : Share Market शब्द में 'Share' का अर्थ होता है हिस्सा और 'Market' या ( बाजार ) का अर्थ होता है वह जगह या स्थान जहाँ पर हम खरीदी एवं बिक्री करते है.


दोस्तो आज की पोस्ट में शेयर मार्केट के बारे में बहुत कुछ जानकारी देने वाला हूँ. जिसमे आपको बताऊंगा share market क्या है, stock market क्या है, share market में पैसे कैसे लगाएं एवं share market या stock market से पैसे कैसे कमाएं.


आज के जमाने में पैसे कमाने के बहुत से शॉर्टकट है जिनसे कोई भी व्यक्ति रातो-रात लखपति या करोड़पति बन सकता है. लेकिन जहाँ पैसे कमाने के चांस अधिक होते है तो वहाँ रिस्क भी उससे ज्यादा होते है. कही बार पैसे कमाने के शॉर्टकट में लोग अपने घर जमीन से भी हाथ धो बटते है. इन सब बातों को साइड में रखते है और जानते है शेयर मार्केट या स्टॉक मार्केट के बारे में विस्तार से...


अगर शेयर मार्केट का अर्थ सरल भाषा मे कहे तो शेयर बाजार किसी शूचीबद्ध कंपनी में अपनी हिस्सेदारी खरीदना एवं बेचने का स्थान है. हमारे देश भारत में दो प्रमुख शेयर बाजार ( share market ) है जिनके नाम बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज ( BSE ) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज है.


Bombay Stock Exchange ( BSE ) की स्थापना सन 1875 में हुई थी. चूंकि यह भारत का सबसे बड़ा एवं सबसे पहले स्टॉक एक्सचेंज है. भारत के दूसरे सबसे बड़े स्टॉक एक्सचेंज National Stock Exchange ( NSE ) की स्थापना Demutualized Electronic स्टॉक एक्सचेंज के रूप में सन 1992 में की गई.


आइए मेरे साथ जानते है अब क्या है share market in hindi जिससे आपको स्टॉक मार्केट या शेयर बाजार के बारे में पूरी सम्पूर्ण जानकारी मिलेगी. जिससे अगर आप भी शेयर बाजार में पैसा लगाने की सोच रहे है तो इसके फायदे नुकसान को जान पाएंगे और आपको होने वाले घाटे से भी बचेंगे. तो आइए जानते है stock market kya hai hindi me.


यह भी पढ़ें > Mutual fund क्या है - mutual fund में निवेश कैसे करे


यह भी पढें > BARS app kya hai फेसबुक शार्ट वीडियो ऐप बार्स की जानकारी हिंदी में


शेयर मार्केट क्या है? - Stock Market kya hai ?

बैसे तो हम ऊपर तोड़ा बहुत शेयर बाजार के बारे में जान चुके है जिसमे मैने आपको शेयर मार्केट या स्टॉक मार्केट का मतलब बताया. जिसमे शेयर और मार्केट का सीदा सा मतलब बताया. शेयर मतलब 'हिस्सा, और बाजार (मार्केट) मतलब वह जगह या स्थान जहाँ हम खरीदी और बिक्री करते है.


यहाँ में आपको और अच्छे से समझाने की कोशिश करता हूँ. जैसे कि मान लीजिए शेयर मार्केट की किसी कंपनी ने 10 हजार शेयर जारी किए और आपने दो हजार शेयर खरीद लिए तो आप उस कंपनी में दो हजार रुपये के साथ 20% के मालिक हुए. सीदा सा मतलब है कि कंपनी 100% में से 20% आपका हिस्सा है और उन 20% पर आपका अधिकार है.


यहाँ कंपनी में स्टॉक का मतलब है व्यक्ति की हिस्सेदारी को दर्शाता है जिसके तहत व्यक्ति अपने हिस्से को अपने मर्जी अनुसार बेच सकता है या किसी अन्य दूसरे व्यक्ति के शेयर खरीद भी सकता है. सभी कंपनियों के share (stock) की कीमत Bombay Stock Exchange में दर्ज रहता है. इन स्टॉक का मूल्य कंपनी को प्राप्त होने वाले लाभ के अनुसार घटता बढ़ता रहता है.


पूरे शेयर मार्केट या स्टॉक मार्केट पर नियंत्रण रखने का अधिकार प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड SEBI के हाथों में होता है. किसी भी कंपनी को अपना IPO ( initial public offering ) जारी करने के लिए SEBI की अनुमति अनिवार्य है. SEBI से आज्ञा के बिना कोई भी कंपनी अपना IPO जारी नही कर सकती है.


शेयर के भाव कम-ज्यादा क्यों होते है

किसी भी कंपनी के कामकाज में मुनाफा बढ़ना-मुनाफा घटना या उतार-चढ़ाव आते रहते है. कभी कंपनी को अच्छे ओर्डर मिलते है तो कभी कम, क्योंकि जो कंपनियां लिस्टेड होती है वह अपना कारोबार रोजाना करती रहती है. जिससे उनकी कंपनी में उतार-चढ़ाव लगा रहता है. इस प्रकार जो मूल्यांकन होता है उसके अनुसार मांग घटना या बढ़ने से उसके शेयरों की कीमत भी कम-ज्यादा होती रहती है.


शेयर बाजार में अगर कोई भी कंपनी शेयर मार्केट द्वारा दिशा निर्देशो अनुसार लिस्टेड समझौते के तहत शर्तो का पालन करने में असफल रहती है या कंपनी के लिस्टेड समझौते से जुड़ी शर्तो को नही मानती है तो उस कपनी को सेबी BSE या NSE से डिलीट कर दिया जाता है.


Share market या Stock market में निवेश कैसे करें

शेयर मार्केट या स्टॉक मार्केट में आपके शेयर (stock) खरीदने के दो रास्ते है. पहला रास्ता जिसमे आप खुद stocks खरीदना चाहते है या दूसरा रास्ता आप किसी ब्रोकर की मदद लेना चाहते है. पहले किसी एक रास्ते को चुने फिर आगे बड़े.


यहां में आपको दूसरा रास्ता पकड़ने की सलाह दूंगा. जिसमे आपको सबसे पहले ब्रोकर की सहायता से Demate एकाउंट खुलवाना होगा. Brokar की सहायता से शेयर खरीदना अच्छा माना जाता है. क्योंकि इन्हें शेयर मार्केट की पूरी जानकारी होती है जिसे वह आपके साथ शेयर भी करते है. अगर आप स्टॉक मार्केट में नए है तो यह आपके लिए एक अच्छा सौदा होगा. ब्रोकर के साथ काम करने से आपको स्टॉक मार्केट को सीखने के साथ एक अच्छा अनुभव भी मिलता है. बस इसके बदले में ब्रोकर आपसे, आपके मुनाफे में से कुछ हिस्सा मांगता है.


जब भी आप कोई शेयर खरीदते या बेचते है तो उसके लेन-देन का संचालन Demate एकाउंट से ही होता है. जो कि आपके पेनकार्ड एवं बैंक एकाउंट से लिंक रहता है. जिससे आप अपना पैसा कभी भी अपने खाते में ट्रांसफर कर सकते हो.


आपने stock market में अपने पैसे लगाना या निवेश का प्लान बना लिया है तो 'Zerodha' पर जाकर आपना aacount खोले और जिसमें जल्द से जल्द बना Demate एकाउंट भी बना सकते है. जिसके बाद शेयर खरीदे एवं बेचे जा सकते है.


Trading क्या है ( what is trading in hindi )

अगर आप शेयर मार्केट से जुड़े है या आप शेयर मार्केट में निवेश करते है तो अपने ट्रेडिंग शब्द अक्सर सुना होगा. तो अब इसका अर्थ भी समझ लीजिए. Trading का मतलब होता है 'व्यापार' जब भी हम किसी वस्तु या सामान को खरीद कर स्टॉक कर के इस उद्देश्य से रखते है कि आगे बेचकर इसपर लाभ कमाएंगे.


बिल्कुल इसी तरह शेयर मार्केट में भी होता है. जिसमे हम share को इस उद्देश्य से खरीदते है कि आने वाले समय में खरीदे गए शेयर के भाव मे उछाल होगा. अथार्त शेयर के भाव बढ़ने पर इन्हें बेचकर लाभ प्राप्त होगा. शेयर मार्केट की इस प्रिक्रिया को Trading कहा जाता है.


Trading के प्रकार - trading कितने प्रकार की होती हैं

Trading के कही प्रकार होते है पर में आपको सबसे लोकप्रिय तीन ट्रेडिंग की जानकारी नीचे दूंगा.


Intra day ट्रेडिंग - एक दिन के अंदर खत्म होने वाली ट्रेडिंग को intra day ट्रेडिंग कहा जाता है. चूंकि इसके समाप्त की तिथि एक दिन की होती है इसलिए intra day trading में शेयर या स्टॉक को जिस दिन खरीदा जाता है उसी दिन उसे बेचना भी होता है. खरीद और बेचने दोनो काम आपको एक दिन के अंदर ही करना होता है.


Scalper ट्रेडिंग - scalper ट्रेडिंग में intra day ट्रेडिंग से भी कम समय आपके पास होता है. यहाँ आपको शेयर खरीदने के बाद कुछ ही मिनटों के अंदर इन्हें बेचना भी होता है. इस ट्रेडिंग में मुनाफा और घाटे दोनो के चांस होते है. यहां मुनाफे के चांस जब ज्यादा बढ़ जाते है अगर आप एक अच्छी रकम यहाँ निवेश कर रहे है. 


Swing ट्रेडिंग - Swing में ट्रेडिंग की प्रिक्रिया दिनों से लेकर महीनों तक चलती है. यहाँ पर लोग स्टॉक को खरीदने के बाद कही दिनों से लेकर एक-एक महीने तक अपने पास रखते है. सही समय आने पर या stocks का भाव बाद जाने पर अपना स्टॉक बेच देते है. और ज्यादा मुनाफा कमाते है.


आज अपने क्या सीखा

शेयर मार्केट क्या है?, स्टॉक मार्केट क्या है? और शेयर मार्केट से पैसे कैसे कमाए इस पोस्ट से अपने यह सभी तरीके जाने साथ ही अपने बहुत कुछ एक्स्ट्रा भी जाना. जिसमे मेने बताया trading क्या है?. जो कि बहुत ज्यादा सुने जाने वाला शब्द है. अपने ट्रेडिंग के प्रकार भी जाने और dimate एकाउंट क्या है एवं demate एकाउंट कैसे खोले ये भी अपने जाना. अगर आपको यह सभी पॉइंट पर मेरे द्वारा दी गई जानकरी अच्छी लगी तो मुझे कमेंट कर जरूर बताएं. इसके आलवा शेयर मार्केट से सम्बंधित कोई डाउट आपके मन मे है तो मुझे नीचे कमेंट कर पूछ सकते है धन्यवाद...



Share market कैसे सीखें - Share market क्या है | stock market kya hai | share market se paise kese kamae | stock market se paise kese kamae | trading kya hai 

कोई टिप्पणी नहीं:
Write comment