इंकलाब जिंदाबाद नारा किसने दिया | इंकलाब किस भाषा का शब्द है

इंकलाब जिंदाबाद नारा किसने दिया | इंकलाब किस भाषा का शब्द है

आइये जानते है इंकलाब जिंदाबाद नारा किसने दिया व इंकलाब किस भाषा का शब्द है और इंकलाब जिंदाबाद नारा का अर्थ क्या है।

इंकलाब जिंदाबाद नारा किसने दिया

इंकलाब जिंदाबाद नारे को 8 अप्रैल 1929 में दिल्ली में असेंबली ले वक्त भगत सिंह और उनके क्रांतिकारी साथियों ने बम फोड़ते वक्त बुलंद किया। लेकिन इस नारे को मशहूर शायर हसरत मोहानी द्वारा एक जलसे में, आज़ादी-ए-कामिल यानी पूर्ण आज़ादी की बात करते वक्त दिया था। भगत सिंह व उनके अन्य सभी साथियों ने मरते दम तक 'इंक़लाब ज़िंदाबाद' का नारा दिया।

इंकलाब किस भाषा का शब्द है

इंकलाब जिंदाबाद नारा पंजाबी भाषा का नारा है। इसका अर्थ 'क्रांति की जय हो' होता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ