बाल आधार कार्ड बनवाने के बदले नियम, जाने क्या है नए नियम

बाल आधार कार्ड नियम


आधार कार्ड एक जरूरी दस्तावेज बन गया है। इसलिए बच्चे के जन्म से माता-पिता को उसके आधार कार्ड बनवाने की टेंशन सताने लगती है। लेकिन अब सरकार के नए नियम अनुसार पांच साल से कम उम्र के बच्चे का आधार कार्ड भी बनवाया जा सकता है। आइये जानते क्या कहते है आधार कार्ड को लेकर सरकार के नए नियम।

सबसे पहले वर्ष 2009 देश मे आधार कार्ड योजना का शुभारंभ किया गया। तभी से इसके इस्तेमाल को सरकार लगातार बढ़ावा दे रही है। इसलिए हर साल सरकार सभी कामो में आधार कार्ड की उपयोगिता को बढ़ाने का काम करती चली आ रही ही। आज सरकारी का से लेकर प्राइवेट काम सभी की लिए आधार कार्ड अनिवार्य हो गया है। अगर आपके पास आधार कार्ड न हो तो आप विभिन्न सरकारी योजनाओं व लाभों से वंचित रह सकतें है। वही आधार कार्ड अब छोटे बच्चों के लिए भी जरूरी डोकोमेंट्स बन गया है। जिससे सरकार बच्चों के लिए भी आधार कार्ड का उपयोग अनिवार्य कर रही है। फिलहाल बच्चों को लेकर सरकार ने आधार कार्ड में कुछ महत्वपूर्ण बदलाव व नियम लागू किए जिससे अब पांच साल से कम उम्र के बच्चें का भी आधार कार्ड बनावाया जा सकेगा।

क्या हुए बाल आधार में बदलाव

अब नए नियम अनुसार पांच से कम बच्चे का आधार कार्ड बनवा सकतें है। क्योंकि अब भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) ने बाल आधार कार्ड को लेकर नियमों में कुछ बदलाव किए है। जिससे आगे से बाल आधार कार्ड के लिए बच्चों के बायोमेट्रिक (Biometric) की जरूरत नहीं होगी। यानी अब बच्चे की उम्र 5 साल होने के बाद पर बायोमेट्रिक (Biometric) कराया जा सकेगा।

बाल आधार कार्ड बनवाने के लिए जरूरी डोकोमेंट्स

  • बच्चों का आधार कार्ड बनवाने के लिए भारत की नागरिकता होनी चाहिए।
  • जन्म प्रमाण पत्र व एक एड्रेस प्रूफ होना चाहिए।
  • बच्चे के माता-पिता का आधार कार्ड भी होना जरूरी है।
  • बच्चे का एक पासपोर्ट साइज फ़ोटो, जन्मतिथि, पते का प्रमाण पत्र, पहचान प्रमाण पत्र आदि।

Post a Comment

0 Comments

Join Telegram

Join Letest Mobile News के लिए Telegram Join करें

Join Telegram