सरकार का नया प्लान इन लोगों को देगी फिर से LPG गैस सिलेंडर पर सब्सिडी, लिस्ट में देखें अपना नाम

सरकार का नया प्लान इन लोगों को देगी फिर से LPG गैस सिलेंडर पर सब्सिडी, लिस्ट में देखें अपना नाम


सरकार का नया प्लान इन लोगों को देगी फिर से LPG गैस सिलेंडर पर सब्सिडी, लिस्ट में देखें अपना नाम

सरकार की नई योजना LPG पर मिलने वाली सब्सिडी को करने जा रही फिर से शुरू, सिर्फ इन लोगों को मिलेगा लाभ : कोरोना के देश में बढ़ते प्रोकोप को देखते हुए LPG गैस सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी को बंद कर दिया गया था ताकि कोरोना के करण भूख से परेशान परिवारों को आर्थिक मदद कि जा सके लेकिन सरकार एक बार फिर सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी को पुनः शुरू करने की योजना बना रही है।

आज मोदी सरकार की बदौलत भारत में वर्तमान में लगभग हर घर में गैस सिलेंडर मौजूद है। कम ही एलपीजी गैस सिलेंडर मिलता है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत देश के गरीब और असहाय लोगों को मुफ्त में एलपीजी गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया जा रहा है। जब से देश को प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत मुफ्त एलपीजी गैस कनेक्शन देने की मुहिम शुरू हुई है तब से देश में ऐसे परिवारों की संख्या में काफी कमी देखने को आई है लेकिन महंगाई के इस दौर में जब सभी की कीमतें महंगी होती जा रही हैं, ऐसे में गैस सब्सिडी पर भी रोक लगा दी गई है और देश की जनता को राहत नहीं नही मिल पा रही है।

इसलिए इस बढ़ते महंगाई के दौर में गरीब असहाय लोगों को जीने में मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है आपको हम बता दें हर राज्य में एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमत वहां के राजस्व के हिसाब से अलग-अलग तय की जाती है.

लेकिन एक एलपीजी गैस सिलेंडर की औसत कीमत ₹1000 के आसपास ही होती है। यानी आपको एलपीजी गैस सिलेंडर खरीदने के लिए हर महीने 1000 रुपये खर्च करने पड़ते। लेकिन इतनी कीमत के बावजूद भी फिर से गैस सिलेंडर की खरीद पर कोई सब्सिडी नहीं मिल रही है।

एलपीजी गैस सिलेंडर सब्सिडी पर सरकार का नया अपडेट-

देश में तेजी से बढ़ रही महंगाई की पृष्ठभूमि में सरकार ने एक बड़ा और हम फैसला ले लिया है. जिससे अब सरकार एलपीजी ग्राहकों को बढ़िया तोहफा देने की तैयारी कर रही है। क्योंकि अगले वर्ष 2023 तक मोदी सरकार फिर से गैस सिलेंडर पर सब्सिडी शुरू करने की योजना बना रही है। इस फैसले का लाभ देश के गरीब 9 करोड़ लोगों महंगाई के समय में बहुत बड़ी राहत देगा।

सीदे सरल शब्दों में कहें तो मोदी सरकार घरेलू गैस सिलेंडर पर एक बार फिर सब्सिडी शुरू करने की तैयारी में है और इसे लेकर योजना भी बना रही है यह खबर देश के गरीब नागरिकों के चेहरे पर खुसी लाने वाली बड़ी खबर है। क्योंकि गरीब महंगाई के कारण बहुत बैचेन है और ऐसे में इतनी बड़ी खबर से बहुत राहत मिलती है.

2022 में तरलीकृत पेट्रोलियम गैस यानी एलपीजी पर बजटीय सब्सिडी समाप्त होने के बाद, अब इसे एक बार फिर 2023 में केंद्र सरकार द्वारा लोगों को वापस कर दी जाने वाली है। अगर सरकार यह योजना बाकई फिर से लागू करती है देश के 9 करोड़ लोगों को महंगाई के इस दौर बड़ी राहत होगी।

क्यों एलपीजी गैस सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी को कर दिया गया था बन्द

आप लोगों को हम बता दे कि हाल ही में कोरोना महामारी के प्रभाव के कारण गैस सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी को रोक दिया गया था. जिसे सरकार एक बार फिर शुरू करने की योजना बना रही है क्योंकि इससे पहले एलपीजी गैस कनेक्शन पर सब्सिडी मिलती थी। पर जून 2022 में कोरोना के दौरान यह सब्सिडी पर लगाम लगा दिया गया लेकिन योजना अगले साल फिर से शुरू होने जा रही है।

देश में दो साल पहले गैस सिलेंडर की सब्सिडी को बंद किया गया था। हालांकि कुछ चुनिंदा एलपीजी गैस कनेक्शन धारकों के खातों में अभी तक सब्सिडी का पैसा आ रहा है, लेकिन यह सभी के खातों में नहीं आ रहा है। सिर्फ उन्ही धारकों के खाते में आ रहा है जिन्हें कनेक्शन उज्ज्वला योजना के तहत मिला था।

ये सब्सिडी 2022 में कोरोना के दौरान पहली लहर शुरू होने के बाद ही एलपीजी गैस सिलेंडर पर पूरी तरह से बंद की गई थी। उज्ज्वला योजना के तहत उपभोक्ताओं को दी जाने वाली सब्सिडी की राशि ₹200 थी।

ताजा अपडेट के मुताबिक देश में 2021-22 में LPG सब्सिडी रोककर सरकार का करीब 11,654 करोड़ रुपये बचा है. और सरकार ने सब्सिडी पर केवल 242 करोड़ रुपये इन्वेस्ट किए हैं. यह पैसा केवल उज्ज्वला योजना कनेक्शन वाले लाभार्थियों को मिला है जिसकी राशि प्रति कनेक्शन मात्र ₹200 है।

जाने क्या है मोदी सरकार की योजना-

पेट्रोलियम मंत्रालय ने वैश्विक स्तर पर ईंधन की बढ़ती कीमतों के कारण चालू वित्त वर्ष में H2FY22 के लिए लगभग 40,000 करोड़ रुपये की आवश्यकता का अनुमान लगाया है और चालू वित्त वर्ष में ओएमसी की वसूली के तहत एलपीजी को फिर से कवर करेगा। इतना ही नहीं, अकेले नोमुरा ने कहा है कि वित्त वर्ष 2013 की पहली तिमाही में एलपीजी पर ओएमसी की रिकवरी रु. 9000 करोड़।

हम आपको बता दें कि यह विशुद्ध रूप से अनुमानित आंकड़ा है। पिछले 2 वर्षों में, H2 में अंडर रिकवरी 6500 से 7500 करोड़ रुपये के बीच थी। उल्लेखनीय है कि वित्त वर्ष 2023 के बजट में केंद्र सरकार की ओर से एलपीजी सब्सिडी के लिए 5800 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया था.

उज्ज्वला योजना के तहत घरेलू खपत के लिए प्रति वर्ष 1000 करोड़ और गरीब नागरिकों के लिए 800 करोड़ रुपये। एक निजी वेबसाइट के अनुसार वित्तीय वर्ष 2023 का बजट खाता पर्याप्त है। इसके अलावा 40000 करोड़ रुपये (पेट्रोलियम मंत्रालय द्वारा अनुमानित) सरकार के पास बचे हैं।

किसे दी जाती है एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी-

सरकार आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को एलपीजी गैस पर सब्सिडी देती है। जिनकी सालाना आय ₹1000000 या इससे ज्यादा है उन्हें इसके तहत सब्सिडी नहीं मिलेगी। यह भी जान लें कि इस 1000000 रुपये की गणना पति-पत्नी दोनों की आय को जोड़कर की जाएगी।

एलपीजी गैस की मौजूदा कीमत क्या है:-
हालांकि एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमत में उतार-चढ़ाव होता है, मौजूदा कीमत 1053 रुपये प्रति 14.2 किलोग्राम सिलेंडर है।

निष्कर्ष-

इस लेख के माध्यम से हमने आपको एलपीजी गैस सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी के बारे में विस्तार से और सरल शब्दों में बताया है। हमें उम्मीद है कि आपको हमारा लेख पसंद आया होगा। अगर आपका कोई सवाल है तो आप हमें कमेंट करके पूछ सकते हैं अगर आप भी उज्जवल योजना के तहत फ्री गैस सिलेंडर लेना चाहते है तो फटाफट हमें Telegram पर Join कर लें।

Post a Comment

Previous Post Next Post